रविवार, 15 जनवरी 2017

सेबी ने 25% घटाई ब्रोकर्स की फीस, रिट्स फंड में म्यूचुअल फंड निवेश को मिली मंजूरी

सेबी ने ब्रोकर शुल्क में की 25% कटौती, म्यूचुअल फंड्स को रियल एस्टेट निवेशक ट्रस्टों में निवेश की मिली छूट


सेबी ने ब्रोकर शुल्क में की 25% कटौती, म्यूचुअल फंड्स को रियल एस्टेट निवेशक ट्रस्टों में निवेश की मिली छूट

बाजार नियामक संस्था सिक्योरिटी एक्सजेंज बोर्ड ऑफ इंडिया (सेबी) ने शेयर ब्रोकरों को बड़ी राहत देते हुए ब्रोकर फीस में बड़ी कटौती कर दी है। सेबी ने ब्रोकर फीस में 25 फीसदी की कटौती करते हुए इसे प्रति करोड़ रुपये के ट्राजैक्शन पर घटाकर 15 रुपये कर दिया है। बिचौलिए का काम करने वाली विभिन्न प्रकार की इकाइयों पर लागू शुल्कों को संशोधित करने की योजना के तहत यह निर्णय किया गया है। सेबी के निदेशक मंडल की शनिवार को यहां हुई बैठक में सभी बाजार बिचौलिया फर्मों और कंपनियों को डिजिटल पेमेंट करने की छूट देने का भी फैसला लिया गया।

यह भी पढे: नवीनतम कौन क्या है 2017 की सूची

बैठक के बाद जारी बयान के अनुसार सेबी बोर्ड ने इसके अलावा कंपनियों के ढांचे संबंधी योजना के मसौदे को दाखिल करने पर शुल्क और कुछ नियमों में ढील की अर्जी पर प्रसंस्करण सहित कुछ नए शुल्क लगाने के प्रस्ताव को भी मंजूरी दी।

बयान में कहा गया है कि सेबी के 'आय और व्यय के बारे में अगले तीन वर्ष के अनुमानों को ध्यान में रखते हुए' बोर्ड ने ब्रोकरों पर प्रति एक करोड़ रुपए के कारोबार पर 20 रुपये की दर से लागू शुल्क को 25 प्रतिशत कम कर 15 रपए कर दिया है।’ ब्रोकर इस शुल्क में कमी की बहुत समय से मांग कर रहे थे।

Popular/Trending News