सोमवार, 3 अप्रैल 2017

अंतरराष्ट्रीय आटिज्म जागरुकता दिवस 02 अप्रैल 2017 को मनाया गया

विश्व के सभी देशों में 02 अप्रैल 2017 को अंतरराष्ट्रीय आटिज्म जागरुकता दिवस मनाया गया।


विश्व के सभी देशों में 02 अप्रैल 2017 को अंतरराष्ट्रीय आटिज्म जागरुकता दिवस मनाया गया।

02 अप्रैल 2017 को विश्व के सभी देशों में अंतरराष्ट्रीय आटिज्म जागरुकता दिवस मनाया गया। इस वर्ष का विषय है – आटिज्म तथा स्वयं संकल्प। यह एक अंतरराष्ट्रीय दिवस है जिसमें संयुक्त राष्ट्र के सदस्य राष्ट्रों को आटिज्म से लड़ने तथा इसका निदान करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा 62/139 प्रस्ताव के तहत इसका निर्धारण किया गया। इसे काउंसिल द्वारा 1 नवंबर 2007 को पारित किया गया जबकि 18 दिसंबर 2007 को अपनाया गया।

इन्हें भी पढ़े: राष्ट्रीय उत्पादकता दिवस देश भर में मनाया गया

यह प्रस्ताव संयुक्त राष्ट्र महासभा में मतदान के बिना अपनाया गया। इसे संयुक्त राष्ट्र द्वारा मानव अधिकारों में सुधार के लिए पूरक के रूप में अपनाया गया। विश्व आटिज्म दिवस संयुक्त राष्ट्र द्वारा स्वास्थ्य संबंधी मनाये जाने वाले चार दिवसों में से एक है।

आटिज्म के बारे में:
  • ऑटिज्म मस्तिष्क विकास में उत्पन्न बाधा संबंधी विकार है। 
  • ऑटिज्म से ग्रसित व्यक्ति दूसरों से अलग स्वयं में खोया रहता है। 
  • व्यक्ति के विकास संबंधी समस्याओं में ऑटिज्म तीसरे स्थान पर है। अर्थात् व्यक्ति के विकास में बाधा पहुंचाने वाले मुख्य कारणों में ऑटिज्म भी जिम्मेदार है।

Popular/Trending News