सोमवार, 8 मई 2017

इमैन्युएल मैक्रॉन बने फ्रांस के सबसे युवा राष्ट्रपति

यूरोपीय संघ समर्थक इमैन्युएल मैक्रॉन फ्रांस के सबसे युवा राष्ट्रपति के रूप में चुने गये

यूरोपीय संघ समर्थक इमैन्युएल मैक्रॉन फ्रांस के सबसे युवा राष्ट्रपति के रूप में चुने गये

फ्रांस के राजनीतिक परिदृश्य को पलटते हुए फ्रांसीसी मतदाताओं ने मध्यमार्गी इमैन्युएल मैक्रॉन को देश के सबसे युवा राष्ट्रपति के तौर पर चुना है।

यूरोप समर्थक पूर्व निवेश बैंकर एवं यूरोपीय संघ (ईयू) के प्रमुख स्तंभ के तौर पर फ्रांस को पेश करने वाले मैक्रॉन ने चुनाव में निर्विवाद रुप से अभूतपूर्व जीत हासिल की।

39 साल के युवा मैक्रों ने इससे पहले कोई निर्वाचित पद नहीं संभाला है। इमैन्युएल मैक्रॉन को 66.06 फ़ीसदी वोट मिले हैं और उन्होंने अपनी प्रतिद्वंद्वी धुर दक्षिणपंथी नेता मरी ल पेन को हराया जिन्हें 33.94 फ़ीसदी वोट मिले।

इन्हें भी पढ़े: ब्रूनो तशीबल कांगो के नए प्रधानमंत्री नियुक्त किये गए

फ़ांसीसी गणतंत्र में 1958 के बाद पहली बार ऐसा हुआ है कि चुना गया राष्ट्रपति फ़्रांस के दो प्रमुख राजनीतिक दलों - सोशलिस्ट और सेंटर राइट रिपब्लिकन पार्टी से नहीं हैं।

फ्रांस के राष्ट्रपति चुनाव के निर्णायक दौड में मैक्रॉन की धुर दक्षिणपंथी प्रतिद्वंद्वी रहीं मरीन ले पेन को मतदाताओं ने बडे अंतर से खारिज कर दिया, जिससे देश की ‘‘पहली महिला राष्ट्रपति' बनने का उनका स्वप्न पूरा नहीं हो पाया।

ऑस्ट्रिया और नीदरलैंड के चुनावों के बाद अब मैकरॉन की जीत ने छह महीने में तीसरी बार यह दिखाया है कि यूरोपीय मतदाताओं ने यूरोप के पास सीमा बहाल करने के इच्छुक धुर दक्षिणपंथी-जनवादियों को सिरे से खारिज कर दिया। 

Popular/Trending News